सरकारी योजनाये

pm kisan status list | प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के सिर्फ इन किसानों को मिलेंगे 6000 रुपए, नई लाभार्थी लिस्ट हुई जारी

pm kisan status list : प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत ईकेवाईसी को अनिवार्य कर दिया गया है अब किसानों के घर-घर जाकर ई-केवाईसी का कार्य किया जा रहा है। यह कार्य राजस्व और कृषि विभाग के कर्मचारी कर रहे हैं। केंद्र सरकार लगभग दो करोड़ किसानों का शुद्ध डाटा तैयार करना चाहती है ताकि भविष्य के अंतर्गत इन 2 करोड़ किसानों को चलाई गई योजना का लाभ प्रदान किया जा सके सरकार सार्वजनिक वित्तीय प्रबंधन प्रणाली व डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर से इन सभी किसान भाइयों को जोड़ने का कार्य भी करेगी।

इस किसान के खाते में आ चुके हैं ₹6000 लाभार्थी

लिस्ट में चेक करें अपना नाम

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना को लेकर केंद्र सरकार के द्वारा अनेक नवीनतम जानकारियां जारी की जा रही है केंद्र सरकार चाहती है कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ केवल और केवल उन्हीं व्यक्तियों को मिले जो की लाभ लेने योग्य है कुछ वर्षों के अंतर्गत ऐसे अनेक सारे व्यक्तियों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की लाभार्थी सूची से हटाया गया जो कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के पात्र नहीं थे चलिए अब हम प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना से जुड़ी आज की नवीनतम जानकारी को शुरू करते हैं। pm kisan status list

Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi

मेरठ जिले के अंतर्गत कृषि विभाग के कर्मचारियों तथा राजस्व कर्मचारियों के द्वारा जिले में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ ले रहे किसानों के भूलेख का अंकन किया और ईकेवाईसी का कार्य किया जिसके चलते 2262 किसान जिन्हें प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ प्रदान किया जा रहा था वह मृतक निकले। वर्तमान समय में ई-केवाईसी करने का कार्य एक उच्च स्तर पर चल रहा है। pm kisan status check

जो भी किसान ओटीपी आधारित ई-केवाईसी करना चाहते हैं वह पोर्टल के माध्यम से ई-केवाईसी कर सकते हैं। भारत सरकार के द्वारा जारी किए जाने वाले अपडेट इस योजना के लिए फिल्टर की तरह काम कर रहे हैं जिससे कि अपात्र किसानों तक लाभ को जाने से रोका जा सकेगा।

किसान ऋण माफी योजना लाभार्थी सूची की जांच करने के लिए

यहाँ क्लिक करें

शासन के द्वारा शत प्रतिशत ई-केवाईसी करवाने का आदेश

pm kisan status list जिले के अंतर्गत प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ लेने वाले किसान भाइयों की संख्या लाखों में है ऐसे में 114864 किसानों की ई-केवाईसी तथा आधार सीडिंग की प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। वही 15 अक्टूबर 2023 तक शत प्रतिशत ई-केवाईसी करने को लक्ष्य शासन के द्वारा रखा गया है। जिले के अंतर्गत अभी और भी किसान है जिनकी ई-केवाईसी होनी बाकी है इन किसानों की संख्या 49748 है। जो भी किसान अपात्र पाए जा रहे हैं अब उन्हें प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ प्रदान नहीं किया जाएगा।

16वीं किस्त को प्राप्त करने के हकदार

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना को लेकर शासन स्तर पर स्पष्ट रूप से साफ कर दिया गया है कि केवल और केवल उन्हीं किसानों को पीएम किसान योजना की 15 वीं किस्त प्रदान की जाएगी जिनकी ई-केवाईसी कंप्लीट है तथा अन्य मानक पूर्ण है और आधार सीडिंग है। ई-केवाईसी हेतु डाक विभाग के अंतर्गत आईपीपीबी खाते किसानों के लिए खोले जा रहे हैं। 27 जुलाई को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की 14 वीं किस्त जारी करने के पश्चात अब बहुत जल्द प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की 15 वीं किस्त जारी की जाएगी।

ग्रामवार लाभार्थी सूची में नाम देखने के लिए

यहाँ क्लिक करें

पीएम किसान योजना की 16वीं किस्त

pm kisan status list पीएम किसान योजना की अगली किस्त यानी की 15वीं किस्त नवंबर महीने के अंतर्गत जारी की जाने की संभावना है या त्यौहारी सीजन के चलते पहले भी किस्त जारी की जा सकती है हालांकि अधिक संभावना नवंबर के महीने की है ऐसे में आप तैयार रहे बहुत जल्द आपको भी किस्त प्रदान की जाएगी। इस किस्त को लेकर कोई भी कंफर्म अधिकारिक जानकारी जारी नहीं की गई है कि आखिर में 15वीं किस्त कब प्रदान की जाएगी लेकिन बहुत जल्द जानकारी जारी कर दी जाएगी।

यहां क्लिक करके सीमेंट के रेट चेक करें..

यहां क्लिक करके स्टील के रेट चेक करें..

पीएम किसान योजना से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी आज आपने जान ली है जैसे ही किसी भी प्रकार की नवीनतम जानकारी पीएम किसान योजना को लेकर निकल कर आती है वह जानकारी भी आपको इसी वेबसाइट पर जानने को मिलेगी इसी प्रकार की योजनाओं से जुड़ी जानकारीयो को जानने के लिए आप हमारी इस वेबसाइट को जरूर ध्यान में रखें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button